बस एक चॉकलेट ‘सुपर फूड’ खाओ, दोपहर का भोजन भूल जाओ

बस एक चॉकलेट ‘सुपर फूड’ खाओ, दोपहर का भोजन भूल जाओ, शारदानंद गौतम, पालमपुरजी हाँ, हिमालयन इंस्टीट्यूट ऑफ़ बायोसामपल्ड पालमपुर टेक्नोलॉजी द्वारा ज्वार, बाजरा, रागी, मक्का, ब्राउन राइस, शहद, स्टीविया और गुड़ से तैयार इस चॉकलेट को खाने के चार घंटे तक आपको भूख नहीं लगेगी। कीमत 40 रुपये है। यदि आप इस चॉकलेट को मिनरल्स और प्रोटीन से भरपूर खाते हैं, भले ही आप दोपहर का भोजन न करें, तो यह काम करेगा। इतना ही नहीं, चॉकलेट अपनी चीनी सामग्री को नियंत्रित करेगा और कुपोषण को खत्म करने में भी मदद करेगा। हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा, पालमपुर के हिमालयन इंस्टीट्यूट ऑफ बायोसंपल्ड टेक्नोलॉजी के वैज्ञानिकों ने भारत में पारंपरिक अनाज की नींव और मजबूती रखी है। संस्थान का कहना है कि इसका लक्ष्य बच्चों में कुपोषण की समस्या को खत्म करना है। इस चॉकलेट को दवाओं और विटामिन के बजाय बच्चों को देने से उनके स्वास्थ्य में सुधार होगा। इस चॉकलेट के व्यावसायिक उत्पादन के लिए कुछ कंपनियों ने संस्थान के साथ साझेदारी की है। यह अच्छा है …: लगभग चालीस ग्राम के इस चॉकलेट में एक गिलास दूध के बराबर प्रोटीन होता है। इसके अलावा, दो रोटी और एक कटोरी दाल में एक ही कैलोरी होती है, केवल तीन से चार ग्राम फाइबर।

कोलेस्ट्रॉल की दवा आपको गंभीर बीमारियों से बचाएगी

हिमाचल प्रदेश के पालमपुर के हिमालयन इंस्टीट्यूट ऑफ बायोसम्पल्ड टेक्नोलॉजी द्वारा तैयार चॉकलेट। कुपोषण से पीड़ित बच्चों में प्रोटीन की कमी को पूरा करेगा यह चॉकलेट। आपको सुबह लंच चॉकलेट खाने की जरूरत नहीं होगी। संस्थान ने 2018 में चॉकलेट मिल और दलिया तकनीक तैयार की। इसे दिल्ली से एमओयू हस्तांतरण के बाद लॉन्च किया गया था। चॉकलेट खनिज और प्रोटीन से भरपूर होती है।

शैक्षिक मनोविज्ञान – वृद्धि और विकास

यह चॉकलेट सेहत के लिए बहुत जरूरी है। इसमें इस्तेमाल होने वाले अनाज को सुपरफूड कहा जाता है। रागी में बहुत सारा कैल्शियम होता है। ये खाद्य पदार्थ फाइबर से भरपूर होते हैं, जो पाचन के लिए उपयुक्त है। पौष्टिक होने के कारण वजन भी नहीं बढ़ता है।

22 thoughts on “बस एक चॉकलेट ‘सुपर फूड’ खाओ, दोपहर का भोजन भूल जाओ

  1. It’s the best time to make some plans for the future and it’s time to be happy.
    I’ve read this post and if I could I wish to suggest you some
    interesting things or advice. Perhaps you can write next articles referring to this article.

    I want to read more things about it! asmr 0mniartist

  2. Write more, thats all I have to say. Literally,
    it seems as though you relied on the video to make your
    point. You definitely know what youre talking about, why throw away your intelligence on just posting videos to your site when you could be giving us something informative to read?
    0mniartist asmr

  3. Hey I know this is off topic but I was wondering if you knew of any widgets I could add
    to my blog that automatically tweet my newest twitter
    updates. I’ve been looking for a plug-in like this for quite some time and
    was hoping maybe you would have some experience with something like this.
    Please let me know if you run into anything.
    I truly enjoy reading your blog and I look
    forward to your new updates. asmr 0mniartist

  4. You really make it seem so easy with your presentation but I find this matter to be really something that I think I would never understand.
    It seems too complex and extremely broad for me. I am looking forward for your next post, I’ll
    try to get the hang of it!

  5. Aw, this was a very nice post. Finding the time and actual effort to produce a great article… but what
    can I say… I hesitate a whole lot and don’t seem to get nearly anything done.

  6. If you are going for most excellent contents
    like myself, just visit this web page all the time since it gives feature contents, thanks

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *